आज की महिलाएँ उद्यमयी अपने नए विचारों से रोज़ भारतवासियों  को आश्चर्यचकित कर रहीं हैं I इन उद्यमियों की मदद करने के लिए टिपिंग प्वाइंट १.० ने एक विशेष कार्यक्रम आयोजित करने का निर्णय लिया है I महिलायें उद्यमियों को ऊंचाइयों तक पहुँचाने के लिए शीदपीपल. टीवी उनका साझेदार रहेगाI अनेक उद्यमियों ने इस कार्यक्रम में भाग लेने की रूचि दिखाई परंतु केवल २५ महिलाएँ चुनी गयी हैंI आइये देखें कि इन महिलाओं ने समस्याओं का हल निकलने के लिए क्या क्या सोचा है -:

विद्या देशपांडे, फाउंडर, सोल पर्पस

साल २०१२ में विद्या देशपांडे ने अपनी सहेली मिमी के साथ शोल पर्पस ट्रेवल्स शुरू किया I इसके अंतरगत वह महिलाओं को भारत के पर्यटक स्थल पर लेकर जाती हैं I महिलाओं कि यह यात्राएँ रोमांच से भरी हुई होती हैं I खाना पीना, जंगल सफारी और भिन्न भिन्न जगहों की संस्कृति को अनुभव करना इस पहल को इतना लोकप्रिय बनाता है I

देशपांडे ने यह मुकाम हासिल करने के लिए बहुत सारी चुनातियों का सामना भी किया है I उन्होंने कहा कि अपने आप को स्थापित करना ही एक बहुत बड़ी चुनौती है I लोग बहुत आसानी से किसी की  काबिलियत पर विश्वास नही करते हैं I हम केवल महिलाओं को पर्यटक स्थल पर लेकर जाते हैं इसलिए सुरक्षा की ओर खास ध्यान देना पड़ता है I

भव्या गोयल,सी. ई. ओ, ऐ.ई.ओ.एम कूटुर

यह फैशन पर निर्धारित स्टार्टअप है जो स्टाइल का विशेष ध्यान रखता है और वैसे ही कपडे बनाता है जैसे ग्राहक को पसंद होंIअपनी संतुष्टि के लिए गले और आस्तीन की लंबाई ग्राहक स्वयं लेकर भेज सकते हैं I

उन्होंने एक इंटरव्यू में कहा-” जब हमें इस बात का ज्ञात हुआ कि ऐसी अनेक महिलाएँ हैं जो केवल इस कारण कपड़ो की खरीददारी नहीं करती कि वह कपड़े उनकी सुविधा के अनुसार नही बने होते, तब हमें लगा कि हम ऐ. ई .ओ. एम. के द्वारा इस चुनौती का सामना कर सकते हैं I”

पूजा राय ,को-फाउंडर, ऐंथील क्रेएशन्स

शहरों में इमारतें बढ़ती जा रही हैं और इस कारण बच्चों के खेलने के मैदान कम होते जा रहे हैं I यह एक चिंता का विषय बन गया था I पूजा राय ने इस दुविधा को ऐंथील क्रेएशन्स के द्वारा ठीक करने के विषय में सोचा I पुराने टायरों की  मदद से ये ऐसे खेल के  मैदान बनाते हैं जहाँ गरीब बच्चे आसानी से खेल पाएं I

प्रगति चौहान , को-फाउंडर , डिजिटल सेल्फ डिफेंस इंफोसेस

साइबर हमले निरंतर बढ़ रहे हैं और यह ज़रूरी है कि इन हमलों का पता प्रथम ही चरण में लग जाए  I वैसे तो फायरवाल का इस्तमाल साइबर हमले की समस्या को हल करने के लिए काफी है परंतु केवल बड़ी कम्पनियाँ ही इसका लाभ उठा पाती हैं I  डिजिटल सेल्फ डिफेंस की मदद से छोटी कंपनियों के लिए भी यह  एक किफायती समाधान प्रदान करता है I

रुक्मणी वैश, फाउंडर, कॉलर फोक

पालतू कुत्तों की देख रेख करना एक कठिन कार्य है और इसी कारण ऐसे बहुत से लोग हैं जो छुट्टियों में घूमने नहीं जा पातेI रश्मि वैश ने इस समस्या का हल अपने स्टार्टअप के द्वारा निकालाI  उनका स्टार्टअप ऐसी योजनाएँ बनाता है जिससे लोग अपने पालतू कुत्तों को  पर्यटक स्थल साथ  ले जाएँ और उन्हें कोई मुसीबत का सामना भी नहीं करना पड़ेI  इस स्टार्टअप के द्वारा लोग अपने पालतू कुत्तों के साथ कैंपिंग और ट्रैकिंग का आनंद भी उठा सकते हैं I

राजश्री शर्मा, को-फाउंडर, ट्रांसैक्ट

एक फ्रीलांसर के लिए आई हुई पेमेंट्स और बहार गए इन्वॉइसेस का ट्रैक रखना एक कठिन कार्य हो सकता हैं I ट्रांसेक्ट से ये कार्य आसान हो जाता हैI ट्रांसेक्ट पेपरवर्क जेनेरेट करने से लेकर ई-पेपर पर हस्ताक्षर करने तक प्रत्येक छोटी बड़ी चीज़ का ध्यान रखता है I कानूनी आवश्यकताओं के लिए भी फ्रीलांसर ट्रांसेक्ट पर निर्भर रह सकता है I

शिल्पा महना भटनागर , सीईओ, ईवोएक्सव्हाईजेड

क्या आप अपने बच्चे की सुरक्षा के बारे में चिंतित रहते हैं? ईवोएक्सव्हाईजेड के पास आपकी इस परेशानी का हल है I इनका प्रोडक्ट एक ऐसा प्लेटफार्म है जो आपको हमेशा आपके बच्चे की लोकेशन के बारे में आपको सचेत रखेगाI यह टेक्नोलॉजी बेहेवियर मैपिंग के लिए भी काम आ सकती हैI माता पिता आसानी से पता लगा सकते हैं कि उनका बच्चा अपना ज़्यादातर  समय कहाँ व्यतीत करता है I यह कंपनी माइक्रो लोकेशन डोमेन में भी स्पेशलाइज़ करती है I

सादिया नसीम , फाउंडर , ग्लैम स्टूडियोज

सादिया नसीम बहुत समय से स्टार्टअप इंडस्ट्री का हिस्सा रह चुकी हैं I उन्होंने ग्लैम स्टूडियोज शुरू करके ब्यूटी सेक्टर को व्यवस्थित बनाने का सफल प्रयास किया I नसीम ने एक इंटरव्यू में कहा,” हम ऐसे सैलून बनाने कि कोशिश कर रहे हैं जिससे ग्राहक सस्ती सेवाओं का लाभ उठा सकेI हम मौजूदा सैलून को भी मार्केटिंग और ट्रेनिंग के द्वारा बेहतर बनाने की दिशा में काम कर रहे हैं I

नूपुर अग्रवाल, फाउंडर, इवोल्व फाउंडेशन्स

इवोल्व एक ऐसा स्टार्टअप है जो ग्रामीण भारत को सामाजिक और आर्थिक लाभ प्रदान करता है I यह इको-टूर और अनेक पर्यावरण और सांस्कृतिक कार्यक्रमों का भी आयोजन करते हैंI इवोल्व के कुछ उत्पाद जैसे कलम और कॉपियां ऐसे हैं जिनसे पौधे भी उगाये जा सकते हैं I

स्वाति पलिवाल, फाउंडर, क्रेसेंडोस्पीक

क्रेसेंडोस्पीक आपकी सोशल मीडिया का सही उपयोग करने में आपकी मदद करता है I इस स्टार्टअप से अनेक व्यवसायों और अभियानों को बढ़ावा मिलता है I क्रेसेंडोस्पीक की मदद से आप अपना संदेश अनगिनत लोगों तक पहुँचा सकते हैं I

मेंटर्स के महत्वव के विषय में स्वाति पलिवाल ने कहा,” टिप्पिंग पॉइंट का उद्देश्य मेंटरिंग हैI सही मेंटरशिप से ही मुझे इस बात का ज्ञात हो सकता है की मेरा उत्पाद बाज़ार में किस तरह बिक सकता है इसलिए मेंटर्स की आज के युग में बहुत अहमियत है I