देश में हो रहे स्टार्टाप बूम आइन महिलायें एक अहम कड़ी बन के सामने आ रही हैं. वह भारत के उद्याय करने के ढंग और पहुँच को पुनार-परिभाषित कर रही हैं. ई-कॉमर्स से सामाजिक प्रभाव तक, महिलायें अपनी बुद्धि, व्यावसायिक कौशल व अपनी ख़ास खूबियों से देश की आर्थिक विकास की बदल रही हैं. बावजूद इसके, ऐसी कई कठिनाइयाँ हैं जिनका सामना महिलाओं को करना पड़ता है, कई बार लैंगिक भेद के कारण, उसके अलावा आयेज बढ़ने और सदायसयटा प्राप्त करने में भी उन्हे कुच्छ अनन्य समस्याओं का सामना करने पड़ता है.

आख़िर आज की महिला उद्ययमी चाहती क्या है? शी थे पीपल ने इस विषय पे एक मेगा सुर्वेक्षण किया. इस सर्वेक्षण के मुख्य केंद्र विषय थे वित्त-पोषण, रचनात्मक विचार और इनसे जुड़े नये उद्ययमीयों के संघर्ष.

इस सर्वेखन के अनुसार, वित्त पोषण संस्थापकों की सबसे चुनौती है.

उनकी सबसे बड़ी मजबूती है उनके रचनात्मक विचार और उन विचारों की ओर उनका जोश और अभिलाषा.

हमें यह भी समझ में आया के एक अच्छी टीम की भूमिका सबसे महत्वपूर्ण है. भारत का वातावरण इस समय कई प्रकार से अनुकूल है. हम अनुकूलता में विश्व में नंबर 3 स्थान पर हैं. हमारे सर्वेक्षण के अनुसार, हमारे सबसे बड़े बल हैं :

  • बाज़ार का बड़ा परिमान;

  • तेज़ी से बढ़ रहे इंटरनेट उपभोगता;

  • ऑनलाइन वाणिज्य

  • माध्यम के रूप में मोबाइल की बढ़ती पहुँच

SheThePeople TV Survey: Sources of Funding
SheThePeople TV Survey: Sources of Funding

इन परिस्थितियों के चलते, संपूर्ण विश्व हमार बेज़ार बन चुका है पर हम ‘मेक इन इंडिया’ कर रहे हैं! हमें ज़रूरत है, उत्कृष्ट विकास दर और मुनाफ़े की. और जहाँ तक सवाल है वित्त पोषण का, तो अच्छा निवेशक एक अच्छे बिज़्नेस आइडिया को ढूँढ ही लेता है.

भारत की कुच्छ सर्वप्रथम महिला उद्ययमी भारत सरकार द्वारा आयोजित Startup Day initiative पर मौजूद होंगी, जो DIPP सचिव अमिताभ कांत द्वारा संचालित किया जेया रहा है. इनमें शामिल हैं SHOPCLUES की राधिका अगरवाल, LIMEROAD की सूची मुखेर्जी, POPXo की प्रियंका गिल, CULTURE ALLEY की प्रांशु पाटनी ताहता कई अन्य बड़ी कंपनीज़ के संस्थापक.

लगभग देश के 2000 स्टार्ट-उप के संस्थापक इस मेगा इवेंट पे उद्यमिता की शक्ति का उत्सव मनाएँगे. दिन भर चलने वाले कई पानेल डिस्कशन्स इंक्युबेशन, नविंकरण, विकास, वित्त-पोषण और रचनात्मकता जैसे कई मुद्दों के खोज-दीप बनेंगे. शाम के आँखरी सेशन में हुमारे प्रधान मंत्री श्री. नरेंद्र मोदी जी बात करेंगे, और आधारिक तौर पर एक कार्य योजना के साथ स्टार्टाप इंडिया इनिशियेटिव की शुरुआत होगी.

ये सर्वेक्षण शी थे पीपल द्वारा किया गया था. शी थे पीपल भारत सरकार द्वारा किए जा रहे इवेंट स्टार्ट्प इंडिया, स्टॅनडप इंडिया में गर्व साथी हैं.

हमसे जुड़ें : https://www.facebook.com/SheThePeoplePage

हमारे और कार्यक्रमों की जानकारी प्राप्त करें: https://twitter.com/SheThePeopleTV