इस खुशी के अवसर पर, दांपत्य जोड़े ने यह भी घोषणा की के वे अपने जीवनकाल में फ़ेसबुक मे अपने शेर्स में से 99प्रति-शत चॅरिटी में दान करेंगे. यह राशि कुल लगभग $45 बिलियन होगी. यह संदेश उन्होने अपनी पुत्री के लिए टाइप की गयी  एक चिठ्ठी पर भी रखका, ताकि आने वाली पीढ़ी का भविष्या कुच्छ सुरक्षित हो सके.

Facebook संस्थापक मार्क ज़करबर्ग व धरमपत्नी प्रिसिला चैन के घर लक्ष्मी-रूपी पुत्री पधारी, जिनका नाम उन्होने मॅक्स रखा

यह चिठ्ठी उन्होने एक फोटो के रूप मे फ़ेसबुक पे अपलोड की जिसको अभी तक कुल 10 लाकख् लाइक्स मिल चुके हैं. यह कदम उठा कर वे एक ट्रेंड का हिस्सा बन चुके हैं, जिसमें दिग्गज बिल व मेलिंडा गेट्स तथा वॉरेन बफे शामिल हैं जिन्होने अपने जीवन भर की आयु मानवीय उद्देश्य के लिए दान करी है. प्रिसीला और मार्क द्वारा की गयी यह शुरुआत ‘ चैन ज़करबर्ग इनिशियेटिव ‘ के नाम से जानी जाएगी. यह संस्था एक असामान्य ‘लिमिटेड लाइयबिलिटी मॉडेल’ पर आधारित है, जिसके द्वारा  वे ‘व्यक्तिगत शिक्षा, बीमारी इलाज व डिजिटल के माध्यम से मज़बूत समुदाय खड़े करने का प्रयत्न करेंगे’.

Hello Max Picture by Mark Zuckerberg, Facebook
Hello Max Picture by Mark Zuckerberg, Facebook

“प्रिसीला और मैं मॅक्स को पुत्री प्राप्त कर बहुत खुश हैं. उसके जन्म के अवसर पे, हमने उसकेलिए एक पत्र लिखा जिसमे हमने उसके भविष्य के लिए अपनी आशा व्यक्त की. वह दुनिया ऐसी हो जिसमें हम बराबरी से मानवीय क्षमता का विकास कर सके. यह संभव हो सकता है, यदि हम व्यक्तिगत शिक्षा प्रदान कर सकें, बीमारियों के इलाज सब तक पहुँचा सकें, सॉफ ऊर्जा का साज़्ज़ कर पायें, ग़रीबी मिटा सकें, व सबमें बराबर का संदेश पुर विश्व में विस्तार कर सकें.

हम प्रतिबद्ध होकर अपनी ओर से बच्चों के लिए जो योगदान हो सकता है, कर रहे हैं. हम अपने फ़ेसबुक शेर्स का 99 प्रति-शत, जो इस समय लग-भाग 45 मिलियन डॉलर्स होता है, को अपने आने वाली पीढ़ियों को सुधारने में लगायेंगे. गर्भावस्था के दौरान हुमारा सपोर्ट करने के लिए मैं आप सभी का टे दिल से धन्यवाद करना चाहता हूँ. आपके सहारे ने मुझे यह विश्वास भी दिया के मिलकर हम लोग मॅक्स और आने वाले पीढ़ी के लिए दुनिया बदल सकते हैं, कुच्छ बेहतर बना कर.”