मेरी ज़िंदगी बदल गयी है. साक्षी मलिक शी द पीपल से एक ख़ास बात चीत में अपने रियो २०१६ के बेस्ट मोमेंट्स पर टिप्पणी देती है. एस्प्न के गौरव कालरा से इंटरव्यू मेइन साक्षी कहती है की उन्हे सबसे काफ़ी प्यार और प्रशंसा मिल रही है. कालरा ने पूछा की मेडल जीतना के तुरंत बाद उनके दिमाग़ में क्या बात उठी? साक्षी का जवाब आया, “ब्रॉन्ज़ मेडल के बाद मुझे आलू परानते खाने थे, डाइयेट से थक गयी थी.”

सबसे बहुत प्यार मिल रहा है. साक्षी मलिक हरयाणा से है. साक्षी कुश्ती में मेडल जीती. रियो २०१६ में भारत का पहला मेडल. यह मेडल काफ़ी उमीदों के बाद मिला. ड्स दिन से भारत की मीडीया मेडल की कोई सूचना की प्रतीक्षा कर रही थी. साक्षी की जीत से एक तरह से जीत का दौर शुरू हुआ.

भारत की पहली औरत कुस्टी में मेडल लाने में सफल साक्षी को देखिए इस ख़ास इंटरव्यू में