उन्होने गेणोमेपाटरी नाम से डीयेने मॅपिंग टेस्ट का इन्वेन्षन किया. इसके ज़रिए पेशेंट उपने शरीर को बेहेतर समझ सकते है. अनु आचार्य भारत के जाने माने स्टारटूप्स फाउंडर्स में से एक है. यह स्टार्टाप मॅपमीजीनोम के नाम से जाना जाता है. आचार्य बीकानेर में पैदा हुई. ई ई टी से आचार्य ने पढ़ा और फिर मास्टर्स ऑफ साइन्स के लिए वह शिकागो गयी. इस कंपनी को स्थापित करने से पूर्ण उन्होने ओकिममसल्यूशन्स नाम की कंपनी शुरू की २००० में. ओकिमम एक डाइयग्नॉस्टिक आउटस्र्सिंग कंपनी रहे करीब १३ साल के लिए. स्टार्टाप और एंट्रेपरेणेउर बूम के तहत, आचार्य ने गेनोमिक्स को आम आदमी तक पहुँचाना चाहा और उससी के साथ मॅपमी जीनोम तो स्टार्टाप के तौर पे सेट उप किया.

Anu Acharya MapMyGenome